Do not make yourself matchsticks

स्वयं को माचिस की तीली न बनाएँ, जो थोड़ा सा घर्षण लगते ही सुलग उठे, स्वयं को वह शांत सरोवर बनाए, जिसमें कोई अंगारा भी फैंके तो, वह खुद ही बुझ जाए

Download View Full Screen