The stones have fulfilled their duty

ठोकरें खा कर भी ना संभले तो मुसाफीर का नसीब, वरना पत्थरों ने तो अपना फर्ज़ नीभा ही दीया

Download View Full Screen